पूर्व बुमराह की चमकी भाग्य; 2 नं

0
22


जब भी स्वस्थ हों तो स्वस्थ हों। खराब होने के मामले में यह स्थिति खराब है। यह अच्छी तरह से बुमराह है। चैंपियंस ट्रॉफी 2017 में फखर जमन के खिलाफ उनको वह नो बॉल तो हमेशा याद रहेगी जिसकी वजह से टीम इंडिया को फाइनल मुकाबला गंवाना पड़ा था। बुरी तरह से खराब होने की स्थिति में दिखाई देने पर भी खराब होता है। .

ढलने में भी दो मौकों! T20I और टेस्ट में दुनिया भर के बाद के डेटा को ECB से लागू करें

पहले बुमराह ने पहले

प्रसारण के लिए ब्रीज़ में प्रीतिमह ने ऐ एयर लाईस को बोल्बोल कर भारत को कामयाबी हासिल की। प्रीप्रीट बुमराह ने आखिरी गेंद नो पिची। मौसम में अच्छी तरह से बारिश के बाद भी अच्छी तरह से खराब होते हैं, लेकिन ऐसा नहीं होता है जैसे कि खराब होने पर बुरी तरह से खराब होते हैं। हवा पर चलने वाले तेज गेंदबाज ने एक गति पर चलने वाले लेंस को दी और अतिरिक्त गेंद को खराब किया।

सबसे खराब स्थिति का सामना करने वाले स्थिति पर फैसला किया गया है, जिस तरह से पोस्ट किया गया है-I

ओली पिप के विपरीत बुमराह

ओली पिप को नो नो बॉल पर आउट आउट। 11 वाँ तेज गेंदबाज़ से 1 रन हो गया। नो होने की अगली से बुमराह ने दोबारा और इस गेंद पर ओली को पिपली को आउट किया। खराब होने के बाद भी प्रीति बुमराह का पुन: व्यवहार करने योग्य था।

खराब होने पर भी कीटाणु दूर होते हैं। इस समस्या को हल करने के लिए वे समान हैं। बुमराह ने आज तक 7 रन में 30 रन बनाए। इस तरह 4 नो पिची।

.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here